ISKCON JABALPUR OFFICIAL WEBSITE

Author name: admin

TEMPLE SCHEDULE

DARSHAN TIMINGS 4:15am to 5:15am 7:15am to 1:15pm 4:15pm to 8:00pm Weekends and public holidays – No break in the afternoon REGULAR SCHEDULE The scriptures recommend that spiritual activities performed in the auspicious time of brahma-muhurta (one and a half hours before sunrise) have greater effect. Srila Prabhupada mandated that devotees should wake up early in the …

TEMPLE SCHEDULE Read More »

कृष्ण के प्रति प्रेम कैसा होना चाहिए ?

कृष्ण के प्रति प्रेम कैसा होना चाहिए ? मुझ शुद्र ,ज्ञान शून्य, मूर्ख से क्या जान पाओगे आप इस प्रश्न का उत्तर जो भगवान के सच्चे प्रेमी भक्त है उनसे ही जानते है कुछ। नारद भक्ति सूत्र (54) में नारद जी भगवद प्रेम की विशेषता बताते है- “गुणरहितम कामनारहितं प्रतिक्षणवर्धमानमविच्छिनम सूक्ष्मतरमनुभवरूपम” इस भक्ति सूत्र के …

कृष्ण के प्रति प्रेम कैसा होना चाहिए ? Read More »

क्या हम भगवान से भी ज्यादा बलवान है!!!

क्या हम भगवान से भी ज्यादा बलवान है!!!   हम सब के अंदर कृष्ण बसे है परमात्मा के रूप में। हमारा कृष्ण से संबंध अटूट है। इतना अटूट है कि इसे हम तो क्या स्वयं कृष्ण भी नही तोड़ सकते। बताओ कितनी बड़ी बात है इतने बड़े भगवान भी इस बंधन से खुद को मुक्त …

क्या हम भगवान से भी ज्यादा बलवान है!!! Read More »

दान और भौतिक प्रकृति के तीन गुण(सतो,रजो,तमो)

दान और भौतिक प्रकृति के तीन गुण(सतो,रजो,तमो)   छोटी  सी  चींटी  से  लेकर  महान  ब्रम्हाजी  तक  इस  विशाल  ब्रहाण्ड में  हर  कोई  जो  भी  कर्म  करता  है  वो  सभी  कर्म  प्रकृति  के  तीन  गुणों  में  से  किसी  न  कसी  गन  के  वशीभूत   हो  कर  करता  है l  जब  हमारी  वृत्ति  सतोगुणी  होती  है  तो  हम …

दान और भौतिक प्रकृति के तीन गुण(सतो,रजो,तमो) Read More »

शरीर को किस कार्य मे लगाकर इसका सदुपयोग करना चाहिए?

शरीर को किस कार्य मे लगाकर इसका सदुपयोग करना चाहिए?   हम विचार करके देखते हैं तो स्पष्ट मालूम होता है कि मनुष्य ही परमात्मप्राप्ति का अधिकारी है। जैसे चारों आश्रमों में ब्रह्मचर्याश्रम केवल पढ़ाई के लिये है। इसी तरह चौरासी लाख योनियों में मनुष्य-शरीर भगवद प्राप्ति के लिये है। भगवान  की प्राप्ति के लिये …

शरीर को किस कार्य मे लगाकर इसका सदुपयोग करना चाहिए? Read More »

भक्ति करने से भौतिक कष्टो से तत्काल रहत!!!! कौन नही चाहेगा?

भक्ति करने से भौतिक कष्टो से तत्काल रहत!!!! कौन नही चाहेगा?   भक्ति सेवा का वर्णन श्रील रूप गोस्वामी द्वारा विभिन्न शास्त्रों के प्रमाणों के साथ किया गया है। उनका कहना है कि शुद्ध भक्ति सेवा  के छह लक्षण हैं, जो इस प्रकार हैं:   (1) शुद्ध भक्ति से सभी प्रकार के भौतिक कष्टों से …

भक्ति करने से भौतिक कष्टो से तत्काल रहत!!!! कौन नही चाहेगा? Read More »

हमें भक्ति सेवा/भक्ति(Devotional service ) क्यों करनी चाहिए?

हमें भक्ति सेवा/भक्ति(Devotional service ) क्यों करनी चाहिए?   सभी लोगो की कई प्रकार की प्राथमिकताए है पर हम सभी भक्त है इसलिए आये देखे हमें भक्ति सेवा/भक्ति हमारी प्राथमिकता क्यों होनी चाहिए।   सबसे पहली बात है आपको अपने जीवन मे कृष्ण भक्ति लाने के लिए सब कुछ ठीक होने की या अनुकूल परिस्थितियों …

हमें भक्ति सेवा/भक्ति(Devotional service ) क्यों करनी चाहिए? Read More »

SPIRITUAL JOURNEYS/PICNICS/HOUSE PROGRAMS

Home About Services Projects Blog Pilgrimage is to rejuvenate our spirituality Previous Next ISKCON Spiritual Journeys and Picnics Barsana Dham One of the most sacred traditions of all religions is pilgrimage.  In our Vedic religion we go to Vrndavana, Badrinath, Kedarnath, Yamunotri, Gangotri, Tirupati, Ramesvaram, Chitrakoot, Ayodhya, Dwarka, Pandharpur, Kolhapur, Udupi, Varanasi, Kashi, Mayapur, Jagannatha Puri, and …

SPIRITUAL JOURNEYS/PICNICS/HOUSE PROGRAMS Read More »

ISKCON YOUTH FORUM(IYF)

Home About Services Projects Blog SERVING YOUTH TRANSFORMING HEARTS Previous Next ISKCON YOUTH FORUM JABALPUR IYF Jbp In  present era the negative influence of the excessive use of the internet and television, the youth is  developing unfavorable habits and inclinations towards grossly materialistic ways of entertainment. This in turn is taking them away from their …

ISKCON YOUTH FORUM(IYF) Read More »